Saturday, 4 May 2013

हिमालय की चोटी पर चढ़.....हिन्दू वीरों ने दहाड़ा है.....

हिमालय की चोटी पर चढ़.....हिन्दू वीरों ने दहाड़ा है......
दूर हटो ए दुनिया वालों......."हिन्दुस्थान " हमारा है.....
माना कि धरती के नक़्शे में………… . तादात हमारी कम है..।
महाकाल के भक्त हैं………क्या इतना गौरव कम है…?
टकरा पाये हमसे कोई………… .. किसमें इतना दम है..?
हम राम-कृष्ण के वंशज ……… जग में किससे कम है..??
हर हर महादेव... जय माँ भारती...