Saturday, 4 May 2013

"कायरो की जमात" कांग्रेस

अगर भगवा आतंकवाद है तो क्या स्वामी विवेकानंद आतंकवादी थे ,बताये कांग्रेस जरा ।
अगर आतंकवाद है भगवा तो हम हसी हसी गले लगाने को तयार है ।
लेकिन कायरो की जमात कांग्रेस थी ,है और रहेगी इसको कोई झुठला नही सकता ।।
कभी थे अकेले हुए आज इतने
नही तब डरे तो भला अब डरेंगे
विरोधों के सागर में चट्टान है हम
जो टकराएंगे मौत अपनी मरेंगे
लिया हाथ में ध्वज कभी न झुकेगा
कदम बढ रहा है कभी न रुकेगा
न सूरज के सम्मुख अंधेरा टिकेगा
निडर है सभी हम अमर है सभी हम
के सर पर हमारे वरदहस्त करता
गगन में लहरता है भगवा हमारा॥
-----जय हिन्द ।।